Ads 468x60px

Pages

Tuesday, April 10, 2012

दर्द में भी जिंदगी होती है

 
कुछ उलझनों के साये में
जिंदगी की दरख्त के तले
नकाबों को चेहरे से ढंके
चेहरों पर भावों को मले
कुछ दर्द, कुछ खुशियाँ
आँखों को थोडा पानी देकर
कुछ लम्हों को जिंदगानी देकर
मुझे ये बात बता रहे हैं
जिंदगी का मतलब
सिर्फ खुशियाँ ही नहीं
दर्द में भी जिंदगी होती है
ये सारे लम्हे मुझे यही सिखा रहे हैं |
ये सारे लम्हे मुझे यही सिखा रहे हैं |

3 comments:

शिखा कौशिक said...

WELL EXPRESSED LIFE .CONGR8S .

like this page on facebook and wish our hockey team for london olympic

शिखा कौशिक said...

well expressed life ..



LIKE THIS PAGE ON FACEBOOK AND WISH INDIAN HOCKEY TEAM FORLONDON OLYMPIC

प्रतुल वशिष्ठ said...

पीड़ा में आनंद लेने और उसमें जीवन का संगीत ढ़ूँढ़ने वाले विरले ही होते हैं। शेष रचनाओं को समय मिलते ही पढ़ने लौटूँगा।

Post a Comment

 
Google Analytics Alternative